पंजाबः किसानों की कर्जमाफी पर अमरिंदर का यू टर्न…

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण का जवाब देते हुए पहले बड़ी चतुराई के साथ किसानों की कर्जमाफी के मुद्दे पर खेल कर गए.

पंजाबः किसानों की कर्जमाफी पर अमरिंदर का यू टर्न...

अमरिंदर ने कहा कि पंजाब सरकार 5 एकड़ तक की खेती की जमीन वाले किसानों का सारा कर्जा माफ करने जा रही है, लेकिन उससे थोड़ी देर बाद जब मुख्यमंत्री ऑफिस की तरफ से प्रेस रिलीज जारी की गई तो इसमें कुछ और ही लिखा था.

प्रेस रिलीज में साफ लिखा था कि माफ किया जाने वाला कर्ज सिर्फ दो लाख रुपए तक का होगा यानि सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सदन में अपनी जो बात कही उससे वो अपनी प्रेस रिलीज में ही पलट गए.

रिलीज में साफ लिखा है कि 5 एकड़ तक की जमीन वाले किसानों का सिर्फ दो लाख रुपये का कर्जा और छोटे किसानों का भी दो लाख रुपये तक का ही कर्जा माफ किया जा रहा है. हालांकि सदन में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहीं भी ये नहीं कहा कि 5 एकड़ की जमीन वाले किसानों का सिर्फ 2 लाख रुपया ही कर्ज माफ किया जाएगा.

अमरिंदर ने कहा था कि 5 एकड़ तक की खेती की जमीन वाले किसानों का पूरा कर्जा माफ किया जाएगा. एक और बात ये भी हैरान करने वाली है कि सीएम अपनी पेपर पर लिखी स्पीच देखकर पढ़ रहे थे, लेकिन उनकी स्पीच की कॉपी भी मीडिया गैलरी में बैठे पत्रकारों को नहीं दी गई.

हालांकि बाद में जब किसानों के कर्ज माफी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने सदन में आम आदमी पार्टी की भी वाहवाही लूट ली, तो उसके बाद एक प्रेस नोट जारी कर दिया गया.