आतंकी संगठन से बूढ़े माँ-बाप ने कहा, बेटा वापिस दे दो

कश्मीर के युवा आतंकवाद का दामन थाम रहे है और इससे सबसे ज्यादा आहत उनके परिजन है. इसी दुःख से पीड़ित अनंतनाग के एक बुजुर्ग मां-बाप ने आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन से अपना ‘डॉक्टर बेटा’ वापस माँगा है. वेबसाइट ‘कश्मीर डायल’ ने अनंतनाग के रहने वाले बुजुर्ग सादिक और उनकी पत्नी का वीडियो पोस्ट किया है. इसमें सादिक अपने बेटे बुरहान की तबीयत खराब होने की दुहाई दे रहे हैं और आतंकियों से बुरहान जो की फिजियोथैरेपिस्ट है को घर वापस भेज देने के लिए हाथ जोड़ रहे है. 

सादिक का कहना है कि उनका बेटा डॉ. बुरहान अहमद गनी दो दिनों से लापता है. बुधवार सोशल मीडिया पर उनके बेटे की फोटो वायरल हुई. इस तस्वीर को शेयर करते हुए जानकारी दी गई थी कि बुरहान ने हिज्बुल मुजाहिद्दीन ज्वॉइन किया है. तस्वीर देखते हुए बुरहान के मां-बाप बेचैन हो गए. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक और वीडियो जारी किया, जिसमें दोनों आतंकियों ने अपना बेटा वापस मांग रहे है. 

 बुरहान के पिता सादिक का कहना है कि उनके बेटी की तबीयत ठीक नहीं है. उसे न्यूरो की दिक्कत है. ऐसे में एक वक्त भी दवा छोड़ना उसकी सेहत के लिए ठीक नहीं है. सादिक ने आतंकियों से अपने बेटे को घर वापस भेजने की अपील की है. माता  पिता को उसकी गुमशुदगी के बाद अपने इलाके अनंतनाग के इस्लामाबाद में वायरल हुई उस फोटो के जरिया ये पता चला जिसमे उनका बेटा हिज्बुल मुजाहिद्दीन की ड्रेस पहने और एके47 लिए खड़ा है.